Home / Nutrition / Nutrition | पोषक तत्व

Nutrition | पोषक तत्व

पोषण(nutrition) से तात्पर्य व्यक्ति के भोजन में उपस्थित पोषक तत्वों की उचित मात्रा से है, जिसे ग्रहण करने से व्यक्ति की जैविक तथा दैनिक क्रियाएं ठीक तरह से चलती रहे।

poshak-nutrition-tatw-kya-hai
image source google

प्रमुख पोषक तत्व

कार्बोहइड्रेट (Carbohydrate)
-वसा (Fats)
-विटामिन (Vitamins)
-खनिज (Minerals)
आदि।

आहार में पोषक nutrition तत्वों की उचित मात्रा में होना व्यक्ति के स्वास्थ्य के लिए अति आवश्यक है। यह मात्रा कम होने पर व्यक्ति कुपोषण का शिकार हो जाता है।

कुपोषण के दो प्रमुख कारण है –

1) एक तो व्यक्ति भूख कम लगने के कारण भोजन कम ले पाता है।
2) अभाव के कारण व्यक्ति ऐसा भोजन करने को मजबूर हो जाता है, जिसमे पोषक तत्व कम मात्रा में होते है, जिससे वो कुपोषण का शिकार हो जाता है।

भोजन में पोषक तत्व कमी से ही नहीं बल्कि उनकी मात्रा अत्यधिक होने से भी कुपोषण की समस्या उत्पन्न हो जाती है।

विभिन्न पोषक तत्वों से कमी अर्थात कुपोषण से होने वाले प्रमुख रोग निम्नवत है –

रक्तहीनता (Anaemia)
-प्रोटीन एनर्जी मालन्यूट्रीशन (Protien energy malnutrition)
-रतौंधी (Night Blindness)
-बेरी-बेरी (Beri-Beri)
-टांगो में दर्द (Calf pain)
-घेंघा (Goitre)
-स्कर्वी (Scurvy)
-पेलेग्रा (Pellegra)
-रिकेट्स (Rickets)
-अस्थिमृदुता (Osteomalacia)
-ास्थीसुषिरता (Osteoporosis)
अतिसार (Diarrhea)
-केसन रोग (Keshan’s disease)
-मेंके रोग (Menke’s disease)
-विल्सन रोग (Wilson’s disease)
-वृद्धि में कमी (Growth deficiency)

कुछ पोषक तत्वों की अधिकता से भी अनेक रोग हो जाते है, जैसे –

१) मोटापा (Obesity) – मोटापे की स्थिति में अन्य अनेक रोग सामान्य व्यक्तियों की अपेक्षा अधिक होते है:-
उच्च रक्तचाप
-दुर्घटनाएं
-ह्रदय रोग
सांस फूलना
-हर्निया
-अस्थि संधि सम्बन्धी विकार
२) हाइपर विटमिनोसिस ए (Hyper vitaminosis A)
३) हाइपर विटमिनोसिस डी
४) फ्लोरोसिस
५) अतिवसारक्तता आदि।

और भी पढ़े……….

लहसुन के गुण और फायदे

चाय पीने के फायदे और नुकसान

धातु गिरने के लक्षण, कारण और घरेलु इलाज

नमक के फायदे

हरी मिर्च के फायदे

About Ram Kumar