Health

अनानास के फायदे

loading...
ananas-ke-fayde
image source google
Written by Ram Kumar

अनानास के फायदे ananas ke fayde शारीरिक शक्ति को विकसित करने वाला अन्न्नास पाचन संबंधित विकार को नष्ट कर देता है। पित्तनाशक, कृमिनाशक और हृदय रोगों के लिए हितकारी अनन्नास ब्राजील का फल है, जो प्रसिद्ध नाविक क्रिस्टोफर कोलम्बस अपने साथ यूरोप से लेकर आया था. भारत में इसे पुर्तगाली लोग लेकर आये थे। भारत में सबसे ज्यादा अनन्नास देश के दक्षिण भाग में पैदा किया जाता है।

ananas-ke-fayde

image source google

आपको बता दें अनानास फल में फैट, कैजोरिज, सोडीयम, कॉलेस्ट्रोल, प्रोटीन और कार्बोहाइड्रेड होता है। इसी के साथ इसमें कई अहम विटामिन भी मौजूद होते है। शरीर और सुंदरता को स्वस्थ रखने में ये बेहद फायदेमंद है।

अन्नानास में पाए जाने वाले महत्वपूर्ण तत्व

(एक कप या 165 ग्राम में पाए जाने वाले पोषक तत्व)

पोषक तत्व

-एनर्जी 50 किलो कैलोरी
-कार्बोहाइड्रेट 13.52 ग्राम
-प्रोटीन 0.54 ग्राम
-वसा 0.12 ग्राम
-कोलेस्ट्रॉल 0 मिलीग्राम
-फाइबर 1.40 ग्राम

विटामिन

-फॉलेट्स 18 ग्राम
-नियासिन 0.500
-पीरिडोक्सिन 0.112 -मिलीग्राम
-रिबोफ़्लिविन 0.018 मिलीग्राम
-थाइमिन 0.079 मिलीग्राम
-विटामिन ए 58 आईयू
-विटामिन सी 47.8 मिलीग्राम
-विटामिन ई 0.02 मिलीग्राम
-विटामिन के 0.07 माइक्रोग्राम

इलेक्ट्रोलाइट्स

-सोडियम 1 मिलीग्राम
-पोटेशियम 109 मिलीग्राम

खनिज पदार्थ

-कैल्शियम 13 मिलीग्राम
-कॉपर 0.110 मिलीग्राम
-आयरन 0.2 9 मिलीग्राम
-मैग्नीशियम 12 मिलीग्राम
-मैग्नीज 0.927 मिलीग्राम
-फास्फोरस 8 मिलीग्राम
-सेलेनियम 0.1 माइक्रोग्राम
-जिंक 0.12 मिलीग्राम

अनानास के फायदे Ananas ke fayde

1-अनानास के स्वस्थ लाभ – स्तनों के कैंसर को रोकता है

अनानस में ब्रोमेलैन एंजाइम होता है जो शरीर की प्रतिकारक शक्ति बढाता है। वह स्तनों का कैंसर होने का खतरा कम करता है। कैंसर के उपाचार से शरीर की हुई हानि को भी अनानस कम करता है। लेकिन इस पर और अनुसंधान होना जरुरी है।

पढ़े….गिरते-झड़ते बालो के हर्बल और आयुर्वेदिक इलाज

2-अनानास का जूस मूत्रमार्ग के संक्रमण का उपचार करता है

तांबा, मैग्नीशियम, कैल्शियम, पोटैशियम, फॉस्फोरस जैसे खनिज महिलाओं के स्वास्थय के लिए आवश्यक होते हैं। नियमित रूप से अनानस का रस पिने से मूत्रमार्ग के संक्रमण दूर होते हैं।

3-अनानास के गुण – पाचन

अनानस में तंतु होते हैं जो स्वास्थय के कई समस्याओं के इलाज में इस्तेमाल होता है| इससे पाचन सुलभ होता हैं।

4-अनानास खाने से फ़ायदे सूजन कम करता है

अनानस के ताजे रस में ब्रोमेलैन एंजाइम होता है जो शरीर की प्रतिकारक शक्ति बढाता है और सूजन कम करता है। सूजन कम होने से गठिया और जोड़ों का दर्द कम होता है।

पढ़े….Carbohydrate kya hai | कार्बोहाइड्रेट क्या है

5-अनानास का जूस आँख की मक्युला का अध:पतन

बढती उम्र के साथ दृष्टिपटल को हानि होती है जिससे दृष्टि जाने की संभावना होती है। यह रोकने के लिए अनानस का रस रोज पियें। इसमें विटामिन बीटा केरोटिन होता है जो दृष्टि के लिए अच्छा होता है

6-अनानास का जूस सूजन कम करने में लाभदायक

अनानस का रस/अनन्नास का जूस पिने से गले की खराश, सायनस और सुजन कम हो जाती है। यह समस्याएं ब्रोमेलैन एंजाइम से कम हो जाती हैं।

7-अनानास के गुण मांसपेशियों में ऐंठन का उपचार

अनानस में उच्च स्तर में पोटैशियम होने से मांसपेशियों की ऐंठन कम होती है। यह खनिज पाचन सुधारता है और गुर्दे का स्वास्थय बनाए रखता है।

8-अनानास के जूस गर्भावस्था में फायदेमंद

अनानस के फायदे, अनानस में फोलिक आम्ल होता है जो स्वस्थ गर्भावस्था में मदद करता है। फोलिक आम्ल गर्भ के शिशु के दिमाग के स्वास्थय के लिए उपयुक्त होता है।

पढ़े….सरसो के ऐसे फायदे जो आप नहीं जानते..

9-अनानास के जूस माहवारी में दर्द कम कर देता है

अनानस का रस माहवारी में दर्द कम कर देता है। अनानस में एंटीऑक्सीडेंट होता है जो कोशिकाओं को होने वाली हानि कम करता है। यह दिल के दौरे से भी बचाव करता है।

अनानास के अन्य फायदे Ananas ke anya fayde

1.अनानास में एंटीऑक्सीडेंट्स काफी अधिक मात्रा में होते हैं और शरीर को साफ रखकर कोशिकाओं के क्षय को रोकते हैं। यह एंटीऑक्सीडेंट्स गठिया, ह्रदय संबंधी रोग और कई तरह के कैंसर जैसी विभिन्न गंभीर बीमारियों से बचाते हैं।

2. इसमें बहुतायत में मैग्निशियम पाया जाता है जिससे हड्डियों और टिशूज में ताकत आती है। एक कप पाइनेप्पल ज्यूस से आपको 73 % मैग्निशियम मिल जाता है और सिर्फ 27 % की और आवश्यकता बची रह जाती है।

3. मसूडों और दांतों को स्वस्थ रखने में पाइनेपल बहुत कारगर है। इससे दांत मजबूत बनते हैं और यह गठिया रोगियों के लिए बहुत लाभदायक है। पाइनेपल को सूजन कम करने के लिए बहुत कारगर समझा जाता है।

पढ़े….एंटीबायोटिक | Antibiotic

4. इसमें मैक्यूलर डीजेनेरेशन को रोकने की क्षमता होती है। मैक्यूलर डीजेनेरेशन उम्र से जुड़ी ऐसी बीमारी है जिसमें धीरे-धीरे आंख का सेंट्रल विजन खत्म हो जाता है।

5. पाइनेपल में होने वाला विटामिन C इम्यून सिस्टम को मजबूत करता है और विभिन्न प्रकार की बीमारियों से आपको बचाए रखता है। यह आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में कारगर है।

6. अगर आप उच्च रक्त चाप से ग्रस्त हैं तो आपको पाइनेपल को अपनी डाइट का हिस्सा जरूर बनाना चाहिए। इसमें पोटेशियम काफी मात्रा में होता है और सोडियम की मात्रा कम होती है। इसी वजह से यह शरीर में रक्त के प्रवाह की गति को नियंत्रित करता है।

7. अना नास उपस्थित ब्रोमेलेन जैसे एंजाइम्स आपकी पाचन संबंधी किसी भी समस्या को हल करने में लाभकारी है। अपनी डाइट में इसे शामिल करके आप पेट के कीड़ों से भी छुटकारा पा सकते हैं।

8. विटामिन A की कमी से आपके नाखून कमजोर और सूखे हो जाते हैं। इससे भी ज्यादा विटामिन B की कमी से आपके नाखूनों में दरारें पड़ जाती हैं और वे टूट जाते हैं। पाइनेपल के नियमित उपयोग से इन दोनों ही विटामिंस संबंधी जरूरतें पूरी होती हैं और आपके नाखून स्वस्थ और खूबसूरत बने रहते हैं।

9. अगर आप भी बार बार होठों के सूखने और परत झड़ने से परेशान हैं तो आप पाइनेपल को अपनाकर इस समस्या से छुटकारा पा सकते हैं। इसके अलावा यह आपकी त्वचा को भी खूबसूरत और झुर्रियों रहित बनाता है।

10. अनानास आपका वजन कम करने में भी अहम भूमिका निभाता है। इसका नियमित रूप से सेवन कर आप आसानी से अपना वजन कम कर छरहरी काया पा सकते हैं। यह कई महत्वपूर्ण विटामिंस का सही मिश्रण है और इसके नियमित उपयोग से प्रतिदिन की पोषक तत्वों संबंधी जरूरतें पूरी हो जाती हैं। शरीर को स्वस्थ रखने के लिए इसका इस्तेमाल बहुत फायदेमंद है।

ये भी पढ़े…..

loading...

About the author

Ram Kumar

Leave a Comment