Ayurvedic Herbs

Soyabean ke prakritik fayde सोयाबीन के प्राकृतिक फायदे

सोयाबीन Soyabean दूध, मांस, अंडे आदि से कही ज्यादा प्रोटीन पायी जाती है। ये प्रोटीन की बहुत अच्छा श्रोत है। प्रोटीन के अलावा इसमें विटामिन, कार्बोहाइड्रेट, वसा, खनिज, बी-काम्प्लेक्स, कैल्शियम, फॉस्फोरस आदि तत्व पाए जाते है। जो हमारे शरीर के प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत और स्वस्थ बनाते है। सोयाबीन की सब्जी बनाकर खाने से बहुत ही स्वादिष्ट लगता है।

Soya-Bean-ke-fayde
image source google

सोयाबीन से दूध कैसे बनाये

तीन गुना गर्म पानी में बारीक पिसे हुए Soyabean के आटे को पांच घंटे के लिए भिगो दे। इसे पतले कपडे में डालकर मल-मलकर छान ले। छाने हुए पानी हुए कम से कम आधे घंटे तक धीमी आंच पर उबाले। उबालते समय इसमें पांच छोटी इलाइची कूटकर डाल दे। उबलने का समय पूरा हो जाने पर इसमें मीठा करने के लिए शक्कर मिला दे। Soyabean का दूध पीने के लिए तैयार है। अगर दही जमाना हो तो इसमें इलाइची का इस्तेमाल न करे। सिर्फ जामन डाल दे।

सोयाबीन की गंध

इसके दूध में हल्की-सी गंध आती है, जो कि किसी को अच्छी नहीं लगती है। अगर इस गंध को दूर करना है। तो सोयाबीन को भिगोते समय आधी चम्मच खाने वाला मीठा सोडा और 1/4 चम्मच नमक पानी में डालकर सोयाबीन को भिगोये। यदि साबुत सोयाबीन भिगोना है तो इसमें 12 घंटे पहले खाने वाला सोडा और नमक भिगोकर रख दे। इसको उबालते समय इसमें एक चम्मच बेकिंग सोडा डालकर उबाले। इन सब के उपयोग से गंध दूर होकर दूध जैसी गंध आएगी। ये दूध पोषक तत्वों से भरपूर और स्वादिष्ट होता है।

Soyabean ke fayde सोयाबीन के फायदे

सोयाबीन के अनेको-अनेक फायदे है, जो कि हमारे सेहत पर बहुत प्रभाव डालता है। इससे हमारे शरीर स्वस्थ रहता है और बीमारी नजदीक नहीं आती है। आइए जानते है इसके फायदे के बारे में:-

स्मरणशक्ति को बढ़ाता है सोयाबीन

सोयाबीन का मीठा हलवा बना कर खाने स्मरणशक्ति बढ़ती है। जिससे भूलने की बीमारी ठीक होती है।

loading...

मोटापा घटाने में उपयोगी सोयाबीन

Soyabean में आइसोफ्लेवंस नामक प्रोटीन पाया जाता है। जो शरीर में चर्बी का भण्डारण कम करके मांसपेशियों को मजबूती प्रदान करता है। चर्बी बढ़ाने वाली कोशिकाओं को बढ़ने से रोकता है। मोटापे के शिकार व्यक्तिओं को Soyabean रामबाण इलाज है। ये मोटापे को घटाकर व्यक्ति को चुस्त-तंदुरुस्त बना देता है।
मोटापे को घटाने के लिए सोयाबीन आटा, दूध और दही का सेवन करना चाहिए।

और भी पढ़े…मोटापा कम करने के महत्वपूर्ण घरेलु उपाय

खून की कमी एनीमिया को दूर करता है सोयाबीन

रक्त की कमी को पूरा करने की लिए सोयाबीन एक बहुत अच्छा स्रोत है। इसमें आयरन प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। ये पाचनशक्ति में भी बहुत उपयोगी है जिससे पाचनशक्ति सही करके खाने को पचाता है।
खाने में सोयाबीन या इसके दूध के उपयोग करने से रक्त की कमी पूरा होता है। इससे कमजोरी भी दूर होती है।

और भी पढ़े…खून की कमी को कैसे दूर करे 

कैंसर में सोयाबीन लाभदायक

स्तन कैंसर, मुख कैंसर और आंतो का कैंसर आदि में Soyabean बहुत अधिक फायदेमंद होता है।
प्रतिदिन 25 ग्राम सोया लिया जाये तो कैंसर में बहुत लाभ मिलता है। सोयाबीन में प्रोटीन बहुत अधिक मात्रा में पाया जाता है। इसके सेवन से हर प्रकार के कैंसर फायदा मिलता है।

हड्डियों को मजबूत बनाये सोयाबीन

कैल्शियम की मात्रा कम, हार्मोन्स में असंतुलन और शारीरिक श्रम के कारण ऑस्टिओपोरोसिस होता है। ऑस्टोपोरोसिस हड्डियों के रोंगो को कहते है। महिलाओ में हड्डियों या जोड़ो में दर्द और पीठ में दर्द के ज्यादा मामले सामने आते है। जिससे बहुत परेशानी का सामना करना पड़ता है।
सोया प्रोटीन के सेवन करने से कमरदर्द, जोड़ो के दर्द, खून की कमी, पीठ दर्द आदि में बहुत फायदेमंद होता है। इससे हड्डियों की मजबूती बढ़ती है। इससे कमजोरी भी दूर करती है।

और भी पढ़े…जोड़ो के दर्द,
कमरदर्द दूर करने के घरेलू उपाय

मधुमेह, ह्रदय रोग में लाभदायक सोयाबीन

soyabean-ke-prakritik-fayde
image source google

लिवर में जमा हुआ वसा को समाप्त करने में सोयाबीन बहुत ही उपयोगी होता है। सोयाबीन प्रतिदिन भोजन में लेने से इसमें पाया जाने वाला प्रोटीन लीवर में अधिक मात्रा में पहुँचता है। जिससे वसा कम होती है। इससे डायबिटीज और हृदय रोग होने का खतरा भी टल जाता है। इसमें कैल्शियम, जिंक, थायोमीन, नियासीन, राइबोफ्लेविन और विटामिन सही मात्रा में मिलती है। एक दिन में शरीर को जितनी लोहे की आवश्यकता होती है। उतना उबले हुए सोयाबीन के आधे कप में मिल जाती है।

और भी पढ़े…मधुमेह Diabetes

सोयाबीन का आटा कैसे उपयोग करे

soyabean-ke-prakritik-fayde
image source google

इसमें पाया जाने वाला ट्रिपेप्सिन Soyabean का पाचन नहीं होने देता है। इस ट्रिपेप्सिन को बाहर निकालने के लिए सोयाबीन को पानी में 12 घंटे भिगोये। इसको रगड़कर, छिलका उतारकर और धोकर उबाले। उबालने के बाद इसको धुप में सूखा ले। फिर इसको पिसवाएं। ये सोयाबीन का सर्वोत्तम आटा है। इसका उपयोग में खाना बनाने में करे।

मुहांसे में फायदेमंद सोयाबीन

soyabean-ke-fayde
image source google

एलर्जी या किसी अन्य कारणवश हुए मुहांसे में सोयाबीन बहुत लाभदायक होता है।
इसके 50 ग्राम तेल और आधा चम्मच निम्बू का रस छानकर मिला ले। इसे चेहरे को शुद्ध पानी से धुलकर लगाने से बहुत लाभ मिलता है।

और भी पढ़े…मुहांसे में क्या करे

बाल को काला करने में सहायक सोयाबीन

soyabean-ke-prakritik-fayde
image souce google

सिर में Soyabean का तेल नहाने के बाद मालिश करने से बाल काले होते है।

और भी पढ़े…

बाल झड़ने के कारण और घरेलु उपाय

नमक के महत्वपूर्ण फायदे

सौंफ के फायदे और नुकसान

loading...

Related Articles

Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker