Home Blog
Indrji-mitha

इन्द्रजी मीठा के गुण

0
मीठा इंद्रजाव मीठा इंद्राजौ या मीठा इंद्रायव (राइटिया टिनक्टोरिया) एक पौधा है। इसे 'व्हाइट कुट्ज़' भी कहा जाता है। इस प्रजाति के सफेद पौधे...
Amarkand

अमरकन्द के गुण

0
यह औषधि हिमालय पहाड़ के समशीतोष्ण प्रान्तों में नेपाल के सिक्किम तक तथा छोटा नागपुर , आसाम , खासिया पहाड़ियाँ और कोकन से दक्षिण...
Doodh-mogra

दूध मोंगरा के गुण

0
इसके पौधे बरसात के दिनों में पैदा होते है। ये एक बालिश्त ऊँचे होते है। कहीं-कहीं जमीन पर फैले हुए भी रहते है। इसके...
Dudhi-lal

दूधी लाल के गुण और उपयोग

1
यह एक वर्षजीवी क्षुद्र और रोयेंदार वनस्पति है। इसका पौधा फुट भर ऊँचा होता है। इसकी डंडिया लाल रंग की रहती है। इसके पत्ते...
Dopatilta

दोपातीलता के गुण

1
यह रेतीले समुद्री किनारे पर उत्पन्न होती है। यह वनस्पति की बेल होती है। इसकी बेलें सौ-सौ फुट लम्बी होती है। इसके पत्ते आसुंदरे...
Desi-badam

देशी बादाम के उपयोग

1
इसे बागों में लगाया जाता है। एक मां के लिए अपने बच्चे के स्वास्थ्य के बारे में चिंता करना आम बात है। हमें यकीन...
Devdaru

देवदारु के गुण और उपयोग

1
देवदारु का वृक्ष हिमालय नेपाल , कुमाऊँ और कश्मीर में विशेष पैदा होता है। यहाँ पर यह केलोन के नाम से प्रसिद्ध है। यह...
Kai

काई के गुण और उपयोग

1
यह जमे हुए पानी , गड्ढे एवं तालाबों में हरी काई के समान सतह पर उत्पन्न होकर फैली रहती है। यह इतनी महीन वनस्पति...
Kanj

कंज के गुण और उपयोग

1
यह वनस्पति कोकण , मद्रास प्रेसीडेन्सी , सिलोन , कुमाऊँ और भूटान में पाँच हजार की फ़ीट ऊँचाई तक , खासिया पहाड़ी पर छह...
Agar

अगर के गुण और उपयोग

1
यह सात से सौ फ़ीट ऊँचा एक सघन वृक्ष है। हराभरा रहता है। इसकी लकड़ी नरम होती है। कटने पर डाल या तने से...

Populal

Motiyabind

मोतियाबिंद के कारण , लक्षण और उपाय

2
यदि आप दूर या निकट नहीं देख सकते हैं, गाड़ी चलाने में परेशानी हो रही है, या दूसरे व्यक्ति के चेहरे के भाव नहीं...