Home / Disease / घाव, सूजन और फोड़ा का घरेलू इलाज

घाव, सूजन और फोड़ा का घरेलू इलाज

घाव, सूजन और फोड़ा

आजकल घरो से बाहर रहते हुए कार्य करते समय चोट लग जाती है, जिससे घाव, फोड़े जाते हो है और इसमें सूजन होना स्वाभाविक है। अगर इसका सही समय पर इलाज न कराया जाय तो भयानक रूप धारण कर लेते है। इसका घरेलू इलाज करके छुटकारा पाया जा सकता है।

foda-funsi-ke-gharelu-ilaj
image source google

घाव, सूजन और फोड़ा का घरेलू इलाज

  1. अगर फोड़ा हो जाय तो एक प्याज लेकर ऊपर से उसके तीन परत ले उस पर थोड़ी सी पिसी हल्दी रखकर हल्का गर्म कर ले फोड़े पर इसे रखकर एक पीपल का पत्ता इसके ऊपर से रखकर बांध ले इससे फोड़ा बैठ जायेगा या फिर फूट कर बह जायेगा और दर्द में आराम देगा।
  2. अचानक शरीर के किसी अंग में सूजन हो जाये तो एक अन्नानास का फल प्रतिदिन लगातार आठ से दस दिन तक खाने से सूजन ख़त्म हो जाती है।
  3. अगर फोड़े ठीक नहीं हो रहे तो पंद्रह ग्राम नीम की पत्ती को लेकर अच्छी तरह पीस ले इसके पिसे हुए लुगदी को एक टिकिया बना ले थोड़ा सा सरसो का तेल लेकर इसमें नीम की टिकिया डाल कर अच्छी तरह घोटकर मलहम तैयार कर ले और इसे एक चौड़े मुंह वाले शीशी में रख ले इसमें पांच ग्राम कपूर ले और पीस कर अच्छी तरह मिला दे अब नीम का मलहम तैयार है। इसे दिन में दो से तीन बार लगाने से फोड़े या फुंसी सूखने लगते है।
  4. पीपल के पत्तो पर घी चुपड़कर आग पर गर्म कर ले इसे फोड़ा या फुंसी पर बांधने से फोड़ा फुट कर बह जाता है और घाव जल्दी ठीक हो जाते है।
  5. चोट लग जाने से अगर खून ज्यादा बह रहा हो तो साफ सूती कपडे को जलाकर उसकी राख को घाव पर छिड़ककर दबाकर रखने से खून बहना बंद हो जाता है।
  6. अगर कही फोड़े निकले हो तो गर्म पट्टी बांधने से बहुत लाभ मिलता है। सबसे पहले, इसकी गरमाहट उस जगह के रक्त प्रवाह को बढ़ाती है, जिसकी मदद से एंटीबॉडीज और सफ़ेद रक्त कणिकाएं (वाइट ब्लड सेल्स) संक्रमण की जगह से बाहर निकल जाते हैं। गर्मी के कारण फोड़े का पस जल्दी बाहर निकलता है।
  7. गर्म पट्टी के स्थान पर आप फोड़े वाली जगह को गर्म पानी में भिगो भी सकते हैं, यदि वह फोड़ा ऐसे स्थान पर है जिसे आसानी से भिगोया जा सकता है। शरीर के निचले भाग में फोड़ा होने पर, हॉट बाथ टब में बैठना फायदेमंद होता है।
  8. जब फोड़ा बहना शुरू हो जाये तो इसे एंटी बैक्टीरियल साबुन और गर्म पानी से अच्छी तरह से धोएं और इसे साफ़ तौलिये से पोछे फोड़े वाली जगह को साफ़ सुथरा रखना चाहिए जिससे संक्रमण फैलने का खतरा न हो।
  9. फोड़े पर एंटी बैक्टीरियल क्रीम जैसे पोवोडिन आयोडीन लगाकर गौज रखकर पट्टी कर देना चाहिए जिससे फोड़े से बैक्टीरिया को ख़त्म किया जा सके।
  10. फोड़े वाली जगह पर धतूरे के पत्तों को गर्म करके बाँधने से वो जल्द ही फुटकर ठीक हो जाता है और फोड़ा धीरे-धीरे ठीक होने लगता है।
  11. कच्ची गाजर का रोजाना सौ मिलीलीटर जूस पीने से फोड़ा होने का खतरा कम रहता है।

और भी पढ़े

जोड़ो के दर्द से राहत पाने के लिए घरेलु इलाज
शक की बीमारी का बेहतरीन इलाज

loading...

About Ram Kumar

15 comments

  1. Pingback: Diabetes Madhumeh | डायबिटीज मधुमेह - Upchar Nuskhe

  2. Pingback: धातु गिरने के लक्षण, कारण और घरेलु इलाज - Upchar Nuskhe

  3. Pingback: अनंतमूल(Indian Sarsaperilla) के गुण और फायदे - Upchar Nuskhe

  4. Pingback: Safed Dhatura ke Ayurvedic Fayde - Upchar Nuskhe

  5. Pingback: Tulsi ke fayde तुलसी के फायदे - Upchar Nuskhe

  6. Pingback: अजवाइन के दाने व पत्ती के फायदे | Ajwain seeds benefits in hindi

  7. Pingback: जैतून Jaitun (Olea Europea) के गुण और लाभ - Upchar Nuskhe

  8. Pingback: इसबगोल Isbagol (Plantago Ovata) के गुण फायदे और लाभ - Upchar Nuskhe

  9. Pingback: धनिया के फायदे और नुकसान Dhaniya(Coriander) ke fayde aur nuksan - Upchar Nuskhe

  10. Pingback: Saunf ke fayde aur nuksan सौंफ के फायदे और नुकसान - Upchar Nuskhe

  11. Pingback: Jeera ke gunn aur fayde | जीरा के गुण और फायदे - Upchar Nuskhe

  12. Pingback: Haldi ke fayde aur nuksan हल्दी के फायदे और नुकसान - Upchar Nuskhe

  13. Pingback: Kamar Dard kaise door kare कमर दर्द कैसे दूर करे - Upchar Nuskhe

  14. Pingback: सरसो के ऐसे फायदे जो आप नहीं जानते.. - Upchar Nuskhe

  15. Pingback: त्वचा की एलर्जी | चर्म रोग के लक्षण, कारण और इलाज - Upchar Nuskhe

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *