छोटी इलायची के फायदे

3
260
choti-ilaichi-ke-fayde
google

इलाइची इसके स्वाद और सुगंध के कारण भारत के खानपान में खूब इस्तेमाल होती है। इसके कई स्वास्थ्य लाभ भी होते हैं जिनको आप शायद ही जानते हों और जिन्हें जानकर आपको हैरानी होगी। इलाइची पोटैशियम, कैल्शियम, सल्फर, लोह, मैंगनीज और मैग्नीशियम का काफी अच्छा स्त्रोत होती है। इसके साथ ही इसमें कई महत्वपूर्ण विटामिन जैसे राइबोफ्लेविन (riboflavin), नियासिन (niacin) और विटामिन सी पाए जाते हैं।
यदि इलाइची के औषधीय गुणों को देखा जाये तो इसमें रोगाणुरोधक (antiseptic), एंटीऑक्सीडेंट, आक्षेपनाशक (antispasmodic), वातानुलोभक (carminative), पचानेवाले (digestive), मूत्रवर्धक (diuretic), उत्तेजक (stimulant), भूख बढ़ाने वाले (stomachic) और टॉनिक गुण पाए जाते हैं।
इलायची का उपयोग हर रसोई में मसाले के रूप में किया जाता है. खाना खाने के बाद मुखशुद्धि के लिए इसका उपयोग किया जाता है. बड़ी इलायची और छोटी इलायची दोनों हमारे लिए उपयोगी है. यह आसानी से उपलब्ध हो जाती है और इसके कई लाभ हैं। तो आइए जानते हैं इलायची के फायदे और उपयोग:-

choti-ilaichi-ke-fayde
image source google

इलायची की फायदे

बदहजमी, पीलिया, मूत्र विकार, सीने में जलन, पेट दर्द, जी मिचलाहट, उबकाई, हिचकी, दमा,पथरी, जोड़ों का दर्द, मुख दुर्गन्ध में इलायची का सेवन लाभदायक है।

सिर दर्द : इलायची पीसकर मस्तिष्क पर लेप करने और बीजों को पीसकर सूघने से सिर दर्द में आराम मिलता है।

अधिक केले खाने पर : यदि किसी ने केले का सेवन अधिक कर लिया और इससे अजीर्ण पैदा हो जाए, तो इलायची खाएं। हजम हो जाएगा।

बिच्छू दंश : दर्द और विष का प्रभाव कम करने के लिए इलायची के दाने मुंह में चबाकर पीड़ित व्यक्ति के कानों में जोर से फूकने पर आश्चर्यजनक लाभ होता है।

खांसी में : इलायची के बीज और मिसरी मिलाकर बार-बार चूसना चाहिए. इससे खांसी में जल्द आराम मिलता है.

मुंह के छाले : इलायची पीसकर शहद के साथ मिलाकर छालों पर लगाएं। इससे मुह के छाले कुछ दिनों में ही ठीक हो जाते हैं.

वमन या उल्टी होने पर पुदीना और इलायची बराबर मात्रा में मिलाकर सेवन कराएं। इससे जल्दी आराम मिलता है.

दांत रोगों में : दांत के रोगों के इलाज में यह बहुत फायदेमंद है. इलायची और लोंग का तेल बराबर मात्रा में मिलाकर दांतों पर मलें इससे जल्द ही आराम मिलता है.

सांस की बीमारी : किसी कि सांस की बीमारी है – जैसे दमा तो इसके लिए आप मिसरी के साथ इलायची का तेल सेवन कराएं तो जल्द ही लाभ मिलता है.

अधिक थूंक आना : कई लोगों को अधिक थूक बनने की शिकायत होती है और इसके इलाज में इलायची बहुत गुणकारी है. इलायची और सुपारी को समान मात्रा में पीसकर एक-दो ग्राम चूर्ण बार-बार चूसते रहने से यह कष्ट दूर हो जाता है।

स्वप्नदोष के इलाज में लाभकारी : आंवले के रस में इलायची के दाने और ईसबगोल बराबर की मात्रा में मिलाकर एक-एक चम्मच की मात्रा में सुबह-शाम सेवन करें। इसका सेवन लगभग एक माह करने से फायदा दिखने लगता है।

हिचकी के इलाज में : हिचकी आने की स्थिति में इलायची बहुत अधिक लाभकारी होती है. इसके लिए दो इलायची पीसकर उबालें। जब आधा पानी बचा रह जाए, तो सहनीय अवस्था में गरम-गरम काढ़ा पिलाएं, कष्ट तुरंत दूर होगा।

और भी पढ़े…..

धनिया के फायदे और नुकसान
डायबिटीज मधुमेह
हरी मिर्च के फायदे
सरसो के ऐसे फायदे जो आप नहीं जानते..

3 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here